जिला कलेक्टर की सैलरी कितनी होती है जानीय हिंदी में ~ District Collector Amounts Of Salary

By | दिसम्बर 25, 2020

जिला कलेक्टर की सैलरी कितनी होती है , ias और जिला कलेक्टर में क्या अंतर है , district collector will gets salary , जिला कलेक्टर कैसे बनता है , upsc परीक्षा पास करने पर कलेक्टर बनता है

एक जिला कलेक्टर जिले में होने वाली सभी गतिविधियों की शासन व्यवस्था उनकी अहम् जिम्मेदारी कलेक्टर की होती है कलेक्टर बनने के लिय भारत सरकार हर साल अलग लग राज्यों की भर्ती करवाती है उस भर्ती को UPSC बोर्ड द्वारा इस भर्ती प्रक्रिया को उनके द्वारा किया जाता है हर साल देश के लाखो युवा साथी UPSC परीक्षा के form भरते है और EXAM को देते है मगर इन लाखो युवाओ में से केवल 12% से 15% युवा साथी UPSC परीक्षा को पास करते है इस UPSC परीक्षा से जिले का कलेक्टर, तहसीलदार , SDM ,इनकम टेक्स आदि पोस्ट UPSC भर्ती परीक्षा द्वारा ही बनना संभव है अगर हम बात करे की UPSC परीक्षा को पास करने वाले युवाओ की सैलरी की तो उनकी सैलरी 56,000 रुपया से start होती है उसके बाद उनको भत्ता , मकान , गाड़ी जैसी अनेको सुविधाए मिलती है कुल मिलकर |

जिला कलेक्टर की सैलरी कितनी होती है ||The Amount Of collector

एक जिले के कलेक्टर की सैलरी देखे तो 2 ,50,000 रुपया तक मिलती है जो की एक देश की शासन व्यवस्था को बनाने रखने वाले प्रधानमंत्री तथा राष्ट्रपति की नहीं होती है अगर हम बात करे जिम्मेदारी की तो प्रधानमंत्री तथा राष्ट्रपति की जिम्मेदारी एक कलेक्टर से कही 10 गुना ज्यादा होती है मगर वेतन कलेक्टर को ज्यादा मिलता है दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको आज कलेक्टर की सैलरी कितनी होती है , कलेक्टर की क्या योग्यता होती है , कलेक्टर कैसे बना जाता है , तथा कलेक्टर के पास कोन कोन से पॉवर होते है इन सब बातो की जानकारी के बारे में विस्तार से वर्णन करेंगे इसलिय आप इस आर्टिकल को लास्ट तक जरुर पढ़े और जानकारी को हासिल करे

सांसद और विधायक की सैलरी कितनी होती है

आर्टिकल किसके बारे में है जिला कलेक्टर की सैलरी के बारे में
कलेक्टर की सेलरी बेसिक वेतन 56,100 , टोटल २.5 लाख रुपया
कार्यभार सम्पूर्ण जिले का
कलेक्टर कैसे बनता है upsc परिक्क्षा पास करने पर
UPSC.INDIA.GOV.IN

जिला कलेक्टर और ias क्या है

राज्य का एक जिला कलेक्टर सम्पूर्ण जिले की कार्य विधि का भार उनके कंधो पर होता है जिले में जो भी कार्य है जैसे पंचायत तथा ग्रामीण क्षेत्रो के विकास , चिकत्सा एवं स्वास्थ्य विभाग , आयुर्वेद , हॉस्पिटल , कृषि समन्धि जो भी परेशानिया है उनकी तथा ,महिलाओ के अधिकार , जिले के बच्चो की शिक्षा , जिले की लाइट एवं उर्जा , खेलकूद , पशुपालन , परिवहन के साधनों जैसी अनेको समस्याओ का हल निकलने एवं नई सेवा प्रदान करने की जिम्मेदारी एक जिला कलेक्टर के पास होती है जिला कलेक्टर IAS का ऑफिसर होता है उसको ही कलेक्टर कहते है ये दोनों एक ही होते है और upsc परीक्षा को पास कर ही जिले का अधिकारी बनाया जाता है उनकी जिम्मेदारी बनती है की जिले में जो भी गतिविधिया है

चाहे गतिविधि अच्छी हो या बुरी उनको निपटाना एवं जिले में कुछ कमिय है उनको निया योजनाओ को जिले में लाना एक कलेक्टर का कार्य है बात करे हम एक जिला क्ल्लेक्टर की सैलरी के बारे में तो कलेक्टर को बेसिक सैलरी भारत सरकार द्वारा 56,100 रुपया मिलता है मगर इसके साथ साथ उनको एक VIP फ्लेट , गाड़ी की सुविधा होती है और उनको पुलिस प्रोटेक्शन भी दिया जाता है उनकी सुरक्षा के लिय अगर हम कुल मिलकर कलेक्टर की सैलरी देखे तो करीब २,50,000 रुपया होती है जो की देश के प्रधानमंत्री से 2 गुना ज्यादा होती है

जिला कलेक्टर कैसे बनते है

अपनी भारत सरकार में upsc एक संस्था है वो देश की बड़ी बड़ी नोकरी जैसे कलेक्टर , तहसीलदार , sdm , इनकम टेक्स विभाग जैसी भर्तिया करवाती है इस भर्ती परीक्षा में देश के करीब 1 लाख युवा साथी हर साल परीक्षा में पेपर देने के इच्छुक होते है मगर upsc परीक्षा देश का सबसे बड़ा बोर्ड है इसका पेपर इतना कठिन होता है की आम युवा साथी पेपर को पास नही कर सकता बहुत ही अनुभव वाले युवा साथी ही इस चयन परीक्षा के पेपर को पास कर सकते है उसके बाद इन युवाओ का interview भी होता है जो कुछ दिन लम्बे समय तक चलता है और सभी क़ानूनी प्रशन इन interview में सीनियर अधिकारियो द्वारा पुच्छे जाते है

देश के कुछ युवा साथियों का सवाल रहता है की ias (आईएस ) कोण होता है मेरे भाइयो ias ही जिले का कलेक्टर होता है इस पोस्ट पर जिस युवा साथी का सिलेक्शन होता है वो जिले का कलेक्टर बनता है upsc भर्ती परीक्षा की बड़ी पोस्ट ias की होती है इनकी सैलरी ही सबसे ज्यादा होती है ias officer की बेसिक सैलरी 56,100 रुपया से start होती है

जिला कलेक्टर बनने की योग्यता क्या है

  • आवेदक भारत देश का मूलनिवासी होना जरुरी है
  • लाभार्थी कम से कम ग्रेजुएशन डिग्री प्राप्त हिना चाहिय
  • लाभार्थी की आयु कम से कम 21 वर्ष से 35 वर्ष के बिच होनी चाहिय
  • आवेदक के ऊपर किसी प्रकार की पुलिश केश नही होना चाहिय
  • लाभार्थी अपराध का भोगी ना हो

One thought on “जिला कलेक्टर की सैलरी कितनी होती है जानीय हिंदी में ~ District Collector Amounts Of Salary

  1. Pingback: तहसीलदार और नायब तहसीलदार की सैलरी कितनी होती है ~The Salary Of Tahasildar And Sub Tahasildar जानकारी हिंदी में »

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *