[NPCSSB] कर्मयोगी मिशन योजना क्या है / एवं उसके लाभ किस तरह मिलेगा ~mission karmyogi scheme

मिशन कर्म योगी योजना आवेदन फॉर्म |मिशन कर्म योगी भारत योजना application form |मिशन कर्म योगी
योजना क्या है |mission karmyogi scheme का benifite किन लोगो को मिलेगा |mission karmyogi scheme से कैसे जुड़े |

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको मिशन कर्मयोगी योजना की सम्पूर्ण details इस आर्टिकल के माध्यम से जानेगे
की ये कर्मयोगी मिशन क्या कम कर्ता है और किन लोगो को स्किल ट्रेनिग प्रदान की जाएगी और कैसे इस योजना
से आप जुड़ सकते हो

इन तमाम बातो की जानकारी केवल इस एक निबंध में मिल जाएगी तो दोस्तों आप से
निवेदन है की आप इस आर्टिकल को जरुर लास्ट तक पढ़े |

मिशन कर्मयोगी योजना 2020 [INTRODUCTION]

कर्मयोगीयोजना एक एसी योजना है जिससे देश के सरकारी अधिकारियो की क्षमता को उर्जावान शक्ति प्रदान
करने व् स्किल को बढ़ाने के लिय शुरू की गई है इसमें देश के सकरी कर्मचारियों को ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी इस
योजना को देश में प्रधानमंत्री मोदीजी ने कंपनी अधिनियम 2013 की धारा 8 से प्राप्त है इसको 2 सितम्बर 2020 को इसकी घोषणा की है

इन कर्मचारियों को व्यक्ति गत रूप से मजबूत तेयार करने के लिय शुरू की है इस योजना में एक स्किल कोशल का
निर्माण होगा जिससे इन अधिकारियो को free में स्कील ट्रेनिग की सुविधा दी जाएगी

जिससे यह सेनिक आत्मनिर्भर एवं मजबूती से पेश आएँगे अपने दुश्मनों के सामने इस कर्मयोगी मिशन में स्किल
टेस्ट भी किया
जाएगा इस टेस्ट में पास हुए कर्मचारियों को पुरष्कृत भी क्या जाएगा ताकि इन अधिकारियो का मनोबल बढ़े

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना आवेदन फॉर्म

आर्टिकल किस योजना को दर्शाता हैमिशन कर्म योगी योजना
शरू कब हुआ2 सितम्बर 2020
उधेश्यसिविल सेवा अधिकारियो को स्किल डेवलेपमेंट करना
अभियार्थी होंगेदेश के अधिकारी और अफसर कर्मचारी
ऑफिसियल websitehttps://www.pmindia.gov.in

मिशन कर्म योगी योजना के तहत सिविल सेवाओ में होगा बड़ा बदलाव

जब देश में इस कर्मयोगी मिशन की शुरुआत होने के बाद किसी भी अधिकारी या कर्मचारी को किसी भी समय इस
स्किल ट्रेनिग के लिय बुलावा भेज सकते है इसके लिय हर सेनिक को तेयार रहना पड़ेगा इस karmyogi मिशन में देश के बड़े -बड़े सलाहकारों को आवेदन किया जाएगा

ट्रेनिग के लिय वे सभी अधिकारी इस ट्रेनिग स्थल पर आए अधिकारियो को ट्रेनिग प्रदान करेंगे और उनकी ट्रेनिग
परिक्षण का रिजल्ट को भी निश्चित करेंगे

इस ट्रेनिग में डिजिटल इंडिया को बेहतर बनाने के लिय शुरू किया है इस कर्मयोगी मिशन में बड़े  अधिकारी जी IAS , IPS अधिकारी का भी ट्रेनिग केंद्र तेयार किया जा रहा है इस योजना का मिशन है की देश के इन अफसरों को कुछ नया सिखाया जाए ताकि वे फिजिकली फिट रह सके मिशन karmyogi के लिय भारत सरकार ने 5 वर्ष का बजट भी तेयार कर लिया है जिसकी लगत करीब 511 करोड़ रुपया होगी इसके बाद देश का कोई भी अफसर ये अधिकारी शारीरिक एवं मानसिक रूप से निर्बल या कमजोर नही रहेगा वो एक साचा सिपाही के साथ साथ फिजिकली भी फिट रहेगा

मिशन कर्मयोगी योजना को भारत में शुरू करने का क्या उधेश्य है

देश के सिविल सेवा अधिकारियो को मिशन के तहत बेहतर बनाना उनको free में स्किल ट्रेनिग प्रदान करना है
जिससे देश का प्रत्येक सेवा कर्मचारी प्रगतिशील हो, उर्जावान ,पेशेवर ,कल्पनात्मक ,रचनात्मक, शक्तिशाली हो वे
अपने भारत के लिय पूर्ण रूप से सक्षम हो इसके लिय इन अधिकारियो को कर्मयोगी योजना से ट्रेनिग दी जाएगी
इससे देश भी शक्तिशाली बनेगा और एक नई दिशा की और रुख बदलेगा इसी के कारण प्रधानमंत्री जी ने इस
कर्योगी मिशन को लागु किया था 

कर्मयोगी मिशन में क्या आम आदमी भग ले सकता है क्या ?

जी नही दोस्तों इस मिशन कर्मयोगी योजना में आप हिस्सा नही ले सकते क्योकि ये मिशन केवल भारत के सिविल सेवा अधिकारी एवं कर्मचारीयो के लिय ही बनाया गया है इसमें ये कर्मचारी स्किल ट्रेनिग के हक़दार होंगे इन कर्मचारियों को आत्मनिर्भर एवं सशक्त मजबूत बनाने के लिय इस मिशन को शुरू किया है  जब देश के ये सब अधिकारी फिजिकली एवं मानसिक रूप से विक्सित होंगे तब आपको इस मिशन की जरुरत ही नही पड़ेगी क्यों की आप तक ये किसी प्रकार की मुसीबत आने ही नही देंगे इन अफसरों के सुरक्षित ट्रेनिग का पता लगाने के लिय इनका स्किल टेस्ट परिक्षण किया जाएगा इइस परिक्षण में पास हुए अफसरों को ही मन समान के लिय पुरष्कृत किया जाएगा ताकि आने वाली पीडी भी इस मिशन के लिय तत्पर रहे और हमारा देश भी इतनी ऊँचाईयो को छू लेगा की परिंदे भी नही पहुच पाएँगे

मिशन कर्मयोगी योजना के लाभ एवं विशेषताए क्या है

  • जब देश में मिशन कर्मयोगी योजना शुरू होगी तब देश में पारदर्शिता एवं उर्जावान बनेगा
  • देश भी विकास की और अग्रसर होगा और उन्नति की और कदम बढ़ेगा
  • मिशन कर्मयोगी योजना को देश में 2 सितम्बर 2020 को सम्पूर्ण भारत में लागु कर दिया है
  • इस योजना से देश के सिविल सेवा अधिकारियो को इ लर्निग की सुविधा मिलेगी
  • भारत में इस कर्म योगी मिशन के लिय सरकार ने 5 साल के ली बजट भी तेयार कर दिया है
  • मिशन कर्म योगी में इन सिविल सेवा अफसरों की ट्रेनिग के लिय सरकार ने 510 .86 करोड़ रुपया की लागत का
    आंकड़ा तेयार कर दिया है
  • इस मिशन के कारण कर्मचारी फिजिकली एवं मानसिक दोनों रूप से परिपूर्ण होंगे जिससे भारत के प्रति निर्णय
    लेने में किसी अधिकारी को हिचकिचाना ना पड़े
  • मिशन कर्म योगी का लाभ केंद्र के कर्मचारी करीब 46 लाख कमचारियो को इस मिशन की ट्रेनिग प्रशिक्षण दिया जाएगा

I-GOT मिशन कर्म योगी किसके बारे में है

i got मिशन के द्वारा इन सिविल सेवा अधिकारियो तथा कर्मचारियों को इ लर्निग की सुविधा प्रदान की जाएगी
जिससे उनके प्रशिक्षण केंद्र की ट्रेनिग बातो की जानकारी प्राप्त लेने में आसानी होती है इस i got मिशन से कई
और भी जानकारी उपलब्ध की जाएगी

इससे वर्तमान में खा है कोई भी दिशा का अनुभव प्राप्त करने के लिय i got का सहारा लिया गया है ये देश के
कर्चारियो को फायदेमंद रहेगा

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *