आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म ~ Aatmnirbhar Bhart Rojgar Yojana

By | फ़रवरी 16, 2021

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना ऑनलाइन पंजीकरण आवेदन शुरू , Pradhanmantri Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana online Registration फॉर्म start , आत्मनिर्भर रोजगार योजना लाभ व् पात्रता की जानकारी हिंदी में , प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना एप्लीकेशन फॉर्म

देश के प्रधानमंत्री मोदी जी ने देश के सभी राज्यों के युवाओ को आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाने के लिय देश में आत्मनिर्भर भारत योजना की शुरुआत की है इस योजना का लाभ देश के 58.5 लाख युवाओ को स्वयं का रोजगार स्थापित करने का मोका मिलेगा वित् वर्ष निर्मला सहित रमण ने आत्मनिर्भर भारत योजना के लिय 15.85 करोड़ रुपया का बजट तैयार किया था जिसका समय 2020 तक सिमित था उसको अब नोवेम्बर 2020 के बाद बढाकर 22,810 करोड़ रुपया की मंजूरी केंद्र सरकार ने दी है जिससे प्रदेश की अर्थव्यवस्था को सुधारने में काफी अहम् योगदान प्रदान करेगी आज देश के करीब 61 % युवा साथी शिक्षात होने के बावजूद बेरोजगार है

उनके पास रोजगार का कोई भी व्यवसाय नही है उनको स्वयं का कारोबार स्थापित करने पर केंद्र सरकार ने जोर दिया है इसके माध्यम से केंद्र सरकार आर्थिक सहायता के रूप में धन राशि उपलब्ध करवाएगी दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको आत्मनिर्भर भारत अभियान के बारे में विस्तार से वर्णन करेंगे इसलिय आप इस आर्टिकल को लास्ट तक जरुर पढ़े

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना 2021

इस योजना के अंतर्गत देश के वे सभी कर्मचारी जो इस लोक डाउन से पहले देश की किसी सरकारी या गैर सरकारी कम्पनियों में नोकरी करते थे उनकी नोकरी मार्च 2020 से लेकर 30 सितम्बर 2020के बिच बंद थी और उनकी सेलेरी 15,000 रुपया के ऊपर थी उनको वापिस नोकरी पर अगर कोई कम्पनी दुबारा से रखती है तो केंद्र सरकार द्वारा कम्पनी अधिकारियो के मालिक को 10 % से 25 % तक की सबसिडी देने की घोषणा वित् मंत्रालय द्वारा की गई है इसके लिय केंद्र सरकार ने वर्ष 2020 में 1585 करोड़ रुपया का बजट बनाया था जिसका लाभ देश के युवा साथियों के रोजगार को स्थापित करने के लिय तैयार किय थे

अब इसकी वितीय राशी को बढाकर केंद्र सरकार ने जून 2021 के लिय 22,810 करोड़ रुपया कर दिया हैइस आत्मनिर्भर भारत योजना की अवधि को केंद्र सरकार ने निश्चित 2 वर्ष की अवधि के लिय बनाया है आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के माध्यम से देश की आर्थिक स्थति जो इस कोरोना महामारी की वजह से देश की अर्थव्यवस्था बिलकुल ख़राब या निचे गिरी है उनको वापिस सुधारने के लिय केंद्र सरकार ने इस हथियार को शुरू किया है

आज देश की बढाती जनसख्या को देखते हुए देश में रोजगार की कमिय इतनी बाधा गई है की लोग शिक्षित होने के बावजूद ही बेरोजगार घूम रहे है लोग छोटे छोटे युवा साथी फंसी के फंदों पर झूलते नजर आ रहे है इस परेशानी को देखकर केंद्र सरकार ने इस aatmnirbhar bharat yojana को देश के सभी राज्यों में शुरू किया है

 आयुष्मान भारत योजना ऑनलाइन पंजीयन फॉर्म

योजना का नामप्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना
योजना का प्रकारकेंद्र सरकार द्वारा शुरू
किसके द्वारा आरम्भवित् मंत्री निर्मला शितारमण द्वारा
आरम्भ करने की तिथि12-11-2020
योजना की अवधि2 वर्ष
उद्देश्यदेश के बेरोजगार युवाओ को रोजगार के नए अवसर प्रदान करना
लाभार्थीनए कर्मचारी
आधिकारिक वेबसाइटhttps://www.epfindia.gov.in/site_en/index.php

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना क्या है

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई एक सार्वजनिक योजना है जिसके माध्यम से देश के बेरोजगार कर्मचारी जो 3 मार्च 2020 से पहले किसी कम्पनियों में रोजगार का कार्य करते थे वे अगले 6 महीनो के लिय कम्पनी ने घर भेज दी है उनको वापिस रोजगार की उपलब्धि करवाने एवं नए रोजगार केंद्र स्थापित करने के लिय तथा देश के युवाओ को आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाने के लिय केंद्र सरकार ने इस aatmnirbhar bharat rojgar yojana को शुरू किया है वित् मंत्री निर्मला सहित रमण ने देश के नोजवानो के लिय वितीय वर्ष 1585 करोड़ रुपया का बजट aatmnirbhar भारत योजना के लिय प्रदान किया था और अब फिर से इसकी राशी को 10 गुना बढाकर 22,810 करोड़ रुपया कर दिया है

देश की स्थति इस कोरोना महामारी ने इतनी बहतर बना दी है की जो मार्च 2020 से पहले कोई युवा साथी किसी कम्पनी में 25,000 की सेलेरी पर कार्य करता था वो अपने परिवार का जीवन गुजरा बहुत बढ़िया तरीके से कर रहा था वो आज घर बेठे तास की पतियों के साथ अपना समय गुजरा कर रहा है उनके पास दो वक्त की रोटी नही है ऐसी ख़राब परिस्थतियो को देखकर केंद्र सरकार ने aatmnirbhar bharat yojana को शुरू किया है

 प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान योजना 

प्रधानमत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना का मुख्य उधेश्य क्या है

सरकार का मुख्य उधेश्य की देश के वे सभी कर्मचारी जो लोक डाउन से पहले किसी कम्पनी में रोजगार करते थे उनको वापिस अपने स्वयं का कारोबार स्थापित करना तथा उनको EPFO के तहत शामिल कर उनके द्वारा जो कार्य कम्पनियों में किय जाते थे उनको वापिस शुरू करवाना है आज देश में इस कोरोना महामारी ने देश की आर्थिक व् सामाजिक व् राजनेतिक गतिविधियों पर काफी ठेस पहुंचाई है उनको वापिस पुनह की स्थति में लेन के लिय केंद्र सरकार ने इस aatmnirbhar bharat रोजगार yojana को शुरू किया है इसके लिय केंद्र सरकार के वित् मंत्री निर्मला शितारमण ने 22,810 करोड़ रुपया का बजट तैयार किया है

ताकि देश की स्थति जो मार्च 2020 से पहले थी वेसी की वेसी लाना है उससे बेहतर बनाने के लिय इस योजना की शुरुआत की है आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के तहत देश के सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशो के लग भाग 58.5 लाख युवा साथी जो शिक्षित होने के बावजूद बेरोजगार है उनको नया रोजगार स्थापित करवाने के लिय सरकार ने एक अहम् कदम उठाया है जिसका लाभ सभी को सामान रूप से अधिकार दिया जाएगा

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना की अवधि कितनी होगी

केंद्र सरकार ने आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना की अवधि को 2 साल रखा है क्यों की देश के वे युवा साथी जो मार्च 2020 से सितम्बर 2020 के बिच लोक डाउन की वजह से घर पर है उनको वापिस उसी कम्पनियों में रोजगार स्थापित करवाने की अवधि 2 साल रखी है इसमें जो कम्पनिया इन कर्चारियो को वापिस नोकरी प्रदान करेगी उनको केंद्र सरकार सबसिडी के रूप में 10 % से 24 % तक की सबसिडी प्रदान करेगी

 डेयरी लोन योजना

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के आवश्यक पहलू व् विशेषताए

इस योजना के अंतर्गत देश के गरीब युवा नोजवान साथी जो लोक डाउन की वजह से घर पर है उनको नया रोजगार स्थापित करने का अवसर केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा केद्र सरकार ने आत्मनिर्भर bharat योजना की अवधि को 2 साल के लिय तैयार किया है इसके लिय केंद्र सरकार की वित् मंत्री निर्मला शितारमण ने वित् वर्ष 1585 करोड़ रुपया का बजट आत्मनिर्भर भारत योजना के लिय तैयार किया था

उसको अब नवम्बर 2020 के बाद बढाकर 22,810 करोड़ रुपया कर दिया है इस योजना के माध्यम से देश के करीब 58.5 लाख युवा साथी जो साक्षर है परन्तु उनके पास जीवन का गुजरा करने के लिय रोजगार का आभाव है उनको aatmnirbhar bharat रोजगार yojana के तहत नया रोजगार देना देश की केंद्र सरकार का कर्तव्य बनता है

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के महत्वपूर्ण दस्तावेज व् पात्रता

  • आवेदक भारत देश का मूल निवासी होना जरुरी है
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • शेक्षणिक योग्यता मार्कशीट
  • बैंक खाता पासबुक पेन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • मोबाइल नंबर

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना की ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

  • इस योजना के अंतर्गत देश का कोई भी अभियार्थी ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो वे इस योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा
  • इस वेबसाइट पर जाने के बाद इस योजना का home page आपकी screen पर ओपन होगा
  • इसके बाद इस home screen पर new रजिस्ट्रेशन का option मिलेगा उस पर click करना होता है
  • इसके बाद फिर से आपकी screen पर एक फॉर्म page ओपन होगा इस फॉर्म page में आपको अपनी स्वयं की जानकारी जैसे नाम , पता , आधार नंबर , मोबाइल नंबर ,आदि जानकारी को भरना होता है
  • जानकारी पूर्ण होने के पश्चात फॉर्म को submit बटन पर click कर देना है और आपका आवेदन इस योजना के अंतर्गत पूर्ण हो जाएगा

 Sarkari Yojana PDF

ABRY_Scheme_Guidelines

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के तहत आवेदन व योजना कि सम्पूर्ण जानकरी के लिए सरकार की और जारी की गई गाइडलाइन पढने के लिए आपको यहा लिंक दिया गया है जिसमे आपको आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना कि सम्पूर्ण जानकारी मिलेगी इस योजना का लाभ लेने के लिए आप प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना गाइडलाइन डाउनलोड करे

FAQs on ATMANIRBHAR BHARAT ROZGAR YOJANA

इस ABRY का उद्देश्य क्या है?

नई पीढ़ी के लिए ईपीएफ एंड एमपी अधिनियम, 1952 के तहत पंजीकृत प्रतिष्ठानों के नियोक्ताओं को प्रोत्साहित करने के लिए रोजगार और नए कर्मचारियों को मासिक वेतन के साथ औपचारिक / संगठित क्षेत्र में प्रवेश करने में सहायता करना COVID-19 के दौरान अपनी नौकरी गंवाने वाले कम वेतन वाले ब्रैकेट से रु। 15000 / – और कम रोजगार प्राप्त करने वाले व्यक्ति सर्वव्यापी महामारी

ABRY के तहत लाभार्थियों के पंजीकरण की वैधता अवधि क्या है?

ABRY अक्टूबर, 2020 के वेज महीने से जून, 2021 के वेज महीने की अवधि के लिए खुला है
नए कर्मचारियों का पंजीकरण

क्या ABRY के तहत लाभ उपरोक्त वैधता अवधि के दौरान ही उपलब्ध होंगे

यह लाभ नए पंजीकरण की तारीख से चौबीस वेज महीने की अवधि के लिए उपलब्ध होगा
पात्र स्थापना के नियोक्ता द्वारा कर्मचारी

कर्मचारियों के संदर्भ आधार का क्या अर्थ है?

यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) के साथ कर्मचारियों की संख्या जिनके लिए नियोक्ता ने ईपीएफ / ईपीएस को हटा दिया है सितंबर, 2020 तक नियत तिथि तक दायर ईसीआर के माध्यम से योगदान के रूप में लिया जाएगा किसी भी स्थापना की पात्रता निर्धारित करने के लिए कर्मचारियों का संदर्भ आधार। ईपीएफ और एमपी अधिनियम, 1952 के तहत 01.10.2020 से 30.06.2021 तक पंजीकृत किसी भी नई स्थापना के लिए, श्रमिकों के संदर्भ आधार को शून्य माना जाएगा

उन कर्मचारियों के लिए पात्रता और संदर्भ आधार कैसे तय किया जाएगा जो फाइल करने में विफल रहे
ईसीआर और देय राशि के लिए बकाया राशि का भुगतान माह 2020 के भीतर देय तिथि के भीतर?

सितंबर २०२० के वेतन माह के लिए ईसीआर दाखिल होने पर ही एबीबी लाभ के लिए स्थापना पात्र होगी 15 दिसंबर 2020 को या उससे पहले। यदि सितंबर, 2020 के लिए ईसीआर 15.10.2020 के बाद, लेकिन 15.12.2020 तक दर्ज किया जाता है, तो कर्मचारी की इच्छा का संदर्भ आधार होगा सितंबर 2020 के वेतन महीने के लिए ईसीआर में अंशदायी यूएएन की संख्या या की संख्या हो पिछले वेतन महीने में कर्मचारी जिसके लिए ईसीआर 11.11.2020 तक दर्ज किया गया था, जो भी अधिक हो। विस्तृत चित्रण Q. सं। में उपलब्ध कराया गया है। ३३। Dlownload FAQs on ATMANIRBHAR BHARAT ROZGAR YOJANA

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.