उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना,मुखबिर बनने पर सरकार योजना के तहत 2 लाख रुपए तक का देगी इनाम ,जाने क्या है योजना

By | फ़रवरी 11, 2021

उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना प्रदेश के लोग बेटी को बोझ समझते है कन्या भ्रूण ह्त्या होती है इसलिए सरकार कन्या भ्रूण ह्त्या को रोकने के लिए मुखबिर योजना की शुरुवात की है जो भी बेटियो को जन्म लेने से रोकेगा उस पर इस योजना के तहत कड़ी कारवाई की जाएगी मुखबिर योजना के तहत जो भी कन्या भ्रूण हत्या की जानकारी देगा उसको सरकार 2 लाख रुपए का इनाम देगी

इस आर्टिकल मे हम जनेगे की मुखबिर योजना क्या है किस प्रकार से आप मुखबिर योजना के तहत मुखबिर बन सकते है किस प्रकार से आपको इस योजना के तहत लाभ मिलेगा आप इन बातों को जानने के लिए बने रहिए हमारे साथ

उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना

Table Of Content

उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना क्या है

उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना अगर आप उत्तर प्रदेशे के निवाशी है तो यह खबर आपके लिए सही है प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्य नाथ ने इस योजना को मंजूरी देदी है कन्या भ्रूण ह्त्या को रोकने के मकसद से मुखबिर योजना की शुरुवात की गयी है कन्या भ्रूण ह्त्या की खबर देने वाले को सरकार इस योजना के तहत 10 हजार से लेकर 2 लाख रुपए का इनमा देगी और खबर देने वाले का नाम भी गोपनीय रखा जाएगा

Read also : PM Jan Dhan Yojana ,जानिए क्या है प्रधानमंत्री जन धन योजना ,केसे करे आवेदन

Uttar Pradesh Informer Scheme highlights

योजना का नाममुखबिर योजना
उद्देश्यकन्या भ्रूण ह्त्या को रोकना
योजना का प्रकारCM योजना
ओफ़्फ़िसियल वैबसाइट
Updateअगस्त 2020

उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना के तहत किस प्रकार से बन सकते है मुखबिर

उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना अगर आप इस योजना के लिए इछूक है तो आपको इस योजना के लिए आवेदन करना होता है कोई भी वो व्यक्ति जो की राज्य सरकार या केंद्र सरकार मे कार्यक्र्त है या फिर गर्भवती महिला का मुखबिर ,मिथ्या ग्राहक आदि इस योजना के लिए चुने जा सकते है जो भी गर्भवती महिला मिथ्या ग्राहक बनती है उसको शपथ पत्र देना होता है अगर आप इस योजना से जुड़ना चाहते है और प्रदेश मे कन्या भ्रूण हत्या को रोकना चाहते है तो आप इसके लिए राज्य स्तर पर सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य एव परिवार कल्याण ,अध्यक्ष राज्य समुचित प्राधिकरण ,मुख्य चिकित्सा अधिकारी से भी संपर्क कर सकते है

उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना के तहत सूचना देने वाले को मिलेगा इनाम

अगर आप इस योजना के मुखबिर बनाना चाहते है और पाने प्रदेश मे कन्या भ्रूण हत्या को रोकना चाहते है तो सरकार की इस योजना के तहत आप सरकार को सूचना दे सकते है सूचना देने वाले को सरकार इनमा भी देगी और आपका नाम भी गोपनीय रखा जाएगा योजना के तहत जो सूचना देने के लिए मुखबिर होता है उसे 60 हजार रुपए मिथ्या ग्राहक बनने वाली महिला को 1 लाख रुपए ओप्रेसन मे शामिल सहायक को 40 हजार रुपए इनमा के तौर पर सरकार देगी यह राशि सुचना देने वाले को तीन किस्तों मे दी जाएगी

इस किस्तों मे पहली किस्त आपको तब मिलती है जब आपको सूचना सही होती है दूसरी किस्त आपको न्यायालय मे हाजिरी के टाइम पर मिलती है और तीसरी किस्त आपको न्यायालय मे दोषियो को सजा मिलने पर मिलती है

योजना के तहत किस प्रकार से होगा काम

वे अल्ट्रासाउंड सेंटर और नर्शिंग होम जो गर्भवती महिलाओ का भ्रूण परीक्षण करती है या ऊनहे लड़की के जन्म लेने से पहले ही मोत के लिए उकसाती है एसे सेंटर की पहचान की जाएगी एसे लोगो को पकड़ने के लिए सरकार मुखबिर लोगो की सहायता लेगी जो सूचना मुखबिर देगा उसी सूचना के आधार पर पुलिस और स्वास्थय विभाग की टीम छापा मारेगी उसके बाद उस सेंटर पर कड़ी कारवाई की जाएगी

सरकार रखेगी मुखबिर की पहचान गोपनीय

अगर आप मुखबिर बनते है तो आपको किसी भी बात से घबराने की जरूरत नहीं है की आपकी पहचान लीक हो जाएगी मुखबिर बनने पर सरकार आपकी पहचान गोपनीय रखेगी यहा पर आपको यह जानकारी भी दे देते है की इसका पूरा खर्चा है जो राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन उठाएगा

अगर आप एक मुखबिर है और आपकी खबर गलत साबित होती है तो आपको ब्लेक लिस्ट मे डाल दिया जाएगा

योजना के तहत मुखबिर गर्भपात केंद्र को ढुढता है फिर गर्भवती महिल्ला उसके सहायक के साथ स्टिंग ऑपरेशन के लिए केंद्र मे जाती है अपराधी की आसानी से पहचान हो सके इसके लिए वह रसायनिक नोटो का भुगतान भी करती है इस प्रकार से एक अपराधि की पहचान की जाती है और उस पर कड़ी कारवाई की जाती है यह काम करने वाली सारी टीम को इनाम भी दिया जाता है

दिन प्रतिदिन यूपी मे बेटियो की संख्या काम होती जा रही है नीचे जिला प्रति हजार बेटियो का अनुपात दिया गया है :-

  • बागपत 763
  • जालौन 653
  • फतेहपुर 799
  • अंबेडकरनगर 772
  • हरदोई 803
  • बिजनौर 800
  • इटावा 813
  • रायबरेली 809
  • सुलतानपुर 825
  • झांसी 815
  • जौनपुर 833
  • औरैया 832
  • एटा 839
  • चंदौली 839
  • फीरोजाबाद 850
  • गौतमबुद्ध नगर 845
  • बलरामपुर 879
  • बस्ती 877
  • बुलंदशहर 886
  • अलीगढ़ 880

योजना से जुड़े हुये सवाल

Q. मुखबिर योजना क्या है ?

Ans. कन्या भ्रूण ह्त्या को रोकने के उद्देश्य से इस योजना को चलाया गया है योजना के तहत जो भी कन्या भ्रूण हत्या करता है उसके बारे मे सूचना देने वाले को या एसे कहे की मुखबिर बनने वाले को सरकार इनाम देगी

Q. यह योजना किस राज्य से जुड़ी हुई है ?

Ans. उत्तर प्रदेश सरकार ने इस योजना को अपने राज्य मे चालया है

Q. इनाम की राशि क्या होगी ?

Ans. सरकार इस योजना के तहत सूचना देने वाले को इनाम के तौर पर 10 हजार से लेकर 2 लाख रुपए तक की राशि इनमा के रूप मे देगी

Note : जो भी कन्या भ्रूण को रोकने के लिए योजना के तहत जानकारी देगा उसकी पहचान गोपनीय रखी जाएगी

यह भी पढे : आईबीपीएस विभिन्न पद एडमिट कार्ड 2020

Author: Mohit

हिंदी सरकारी योजना ब्लॉग में आपका स्वागत है इस ब्लॉग हम हम हर रोज नई व पहले से शुरू कल्याणकारी जन हित Sarkari Yojana कि पोस्ट करते है अगर आपको सरकारी योजना कि जानकारी सही सही चाहिय तो आप हमारे इस ब्लॉग को सेव कर सकते है Sarkari Yojana , Goverment Scheme , Pradhanmantri yojana, PM Modi Yojana, My Name - Jasveer Gansad - में राजस्थान चुरू जिले कि सरदारशहर तहसील का मेलूसर ग्राम पंचायत का निवासी हु और आपको बता दू मुझे सरकारी योजना का 5 वर्ष नॉलेज है 2015 में मैंने सरकारी व गैर सरकारी कार्य का कॉमन सर्विस सेंटर खोला था जिसमे ऑनलाइन सरकारी योजनाओ के फॉर्म भरना व अन्य सरकारी व गैर सरकारी कार्य करता था जिससे मुझे प्रधानमंत्री द्वारा शुरू सभी सरकारी योजनाओ कि जानकारी है इसके अलावा हम लोग सरकारी ऑफिसियल वेबसाइट हर रोज सर्कार द्वारा जारी निर्शो के अनुसार इस ब्लॉग में योजनाओ के बारे में लिखते है

2 thoughts on “उत्तर प्रदेश मुखबिर योजना,मुखबिर बनने पर सरकार योजना के तहत 2 लाख रुपए तक का देगी इनाम ,जाने क्या है योजना

  1. Pingback: उत्तरप्रदेश विवाह अनुदान योजना 2021 Uttrprdesh vivah anudan Form

  2. Pingback: BC SAKHI ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन BC सखी योजना आवेदन 2021

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.